प्रवासी राजस्थानीयों में सर्वाधिक लोकप्रिय

शिमला और जम्मू से भी ठंडा राजस्थान, यहां माइनस में पहुंचा तापमान, जम रहा मरुस्थल

जयपुर।. इन दिनों राजस्थान शिमला हो रखा है। ऐसा हम नहीं तापमान बता रहा है। राजस्थान के सीकर और अलवर में कई जगहों पर सर्दी जम्मू भी अधिक है। अलवर जिले के नौगांवा और शिमला का न्यूनतम तापमान 2 डिग्री दर्ज किया गया। जबकि जम्मू कश्मीर में न्यूनतम तापमान 3 डिग्री दर्ज हुआ। अलवर शहर में न्यूनतम तापमान 5 डिग्री जबकि ग्रामीण क्षेत्रों में 3 और 2 डिग्री रहा। वहीं सीकर के फतेहपुर में तो तापमान माइनस में पहुंच गया।


बुधवार से लेकर शुक्रवार को अलवर शहर में सुबह कोहरा छा रहा है।। सुबह 11 बजे तक सर्दी ने शहर को आगोश में ले रखा था। कोहरे की आगोश में पूरा जिला को घिरा रहा। कोहरे के कारण सडक़ों पर चौपहिया वाहन सुबह 12 बजे तक रेंग-रेंग कर चलते रहे। रोडवेज बसें भी इस कोहरे में अपने निर्धारित समय में काफी देर तक पहुंची। इस दिन सर्दी ने लोगों को घर में ही रहने पर मजबूर कर दिया। लोगों ने घरों में सर्दी से बचने के लिए हीटर चलाना प्रारम्भ कर दिए हैं। तेज सर्दी के चलते अलवर जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में पेड़ों पर गिरी बूंदे बर्फ बनकर दिखने लगी। अलवर जिले में कई जगह तापमान 1.5 डिग्री पर पहुंच गया है।


कोहरे से थम गया जिला गुरुवार सुबह यह हाल था कि कोहरे के कारण बाहर कुछ दिखाई ही नहीं दे रहा था। बहुत से लोग तो कोहरे को देखकर बाहर नहीं निकले। कोहरे के चलते अलवर जिले में सडक़ों पर बड़े वाहन बहुत कम संख्या में दिखाई दिए।
इतनी सर्दी कई दशक बाद मौसमविद का कहना है कि लगातार न्यूनतम तापमान 4 से 7 डिग्री रहने का सिलसिला कई दिनों से चल रहा है। ऐसा लगातार कई वर्षों बाद हुआ है। आगामी दिनों में तापमान बढऩे की बजाए और घट सकता है। अलवर जिले में इतनी सर्दी कई वर्षों बाद पडऩे से लोगों की दिनचर्या में परिवर्तन नजर आने लगा है। अलवर जिले का तापमान हिमाचल के शिमला के बराबर हो गया है।

1997 के बाद आया सर्दी लम्बा दौर अलवर शहर में 1997 के बाद 10 दिन से सर्दी कहर ढा रही है। इससे पहले 2014 में लगातार 8 दिनों तक सर्दी ने जिले को कंपकंपाया था।

Comments are closed.