प्रवासी राजस्थानीयों में सर्वाधिक लोकप्रिय

बीकानेर में अब इन उद्योगों को शुरू करने की मिली छूट

बीकानेर जिला उद्योग संघ में महाप्रबंधक जिला उद्योग केंद्र मंजू नैन गोदारा द्वारा शहरी क्षेत्र के कुटीर उद्योग पापड़, बड़ी, मूंगोड़ी और भुजिया को चालू करने हेतु उद्यमियों एवं व्यापारियों को सरकारी एडवाइजरी के अनुसार इकाइयां चालू करने के निर्देश प्रदान किये।

बीकानेर जिला उद्योग संघ के अध्यक्ष द्वारकाप्रसाद पचीसिया व विवाद एवं शिकायत निवारण तन्त्र सदस्य रमेश अग्रवाल ने इन कुटीर उद्योगों को शुरू करवाने हेतु ऊर्जा एवं जनस्वास्थ्य अभियांत्रिकी मंत्री डॉ. बी.डी. कल्ला, जिला कलक्टर कुमारपाल गौतम, अति. जिला कलक्टर ए.एच.गोरी व महाप्रबंधक जिला उद्योग केंद्र मंजू नैन गोदारा का धन्यवाद ज्ञापित करते हुए बताया कि लघु उद्योग पापड़, बड़ी, मूंगोड़ी व भुजिया को शहरी क्षेत्र में चालू करने हेतु जिला कलक्टर कुमारपाल गौतम से मिला जिस पर कलक्टर गौतम द्वारा शीघ्र इन उद्योगों को शुरू करवाने का आश्वासन दिया और जिला प्रशासन के निर्देश पर महाप्रबंधक जिला उद्योग केंद्र द्वारा मीटिंग कर एडवाइजरी जारी की गई। बीकानेर पापड़ भुजिया मेन्युफेक्चरिंग एसोशियेशन के अध्यक्ष घेवरचंद मुसरफ ने बताया कि शहरी क्षेत्र में इन कुटीर उद्योगों को संचालन की अनुमति देने से इन उद्योगों से जुड़ी हजारों महिलाओं को रोजगार प्राप्त हो जाएगा।

बीकानेर व्यापार उद्योग मंडल सह सचिव रोहित कच्छावा ने बताया कि जिला प्रशासन द्वारा इन उद्योगों को चालू करने के लिए जारी की गई एडवाइजरी एवं सोसियल डिस्टेंसिंग की पालन गंभीरता से की जायेगी। बीकानेर व्यापार उद्योग मंडल सचिव पंडित जयदेव शर्मा ने बीकानेर जिला प्रशासन के इन कुटीर उद्योगों को दी गई छूट की सराहना करते हुए पधारे सभी व्यापारी उद्यमियों का धन्यवाद ज्ञापित किया।


इस अवसर पर बीकानेर जिला उद्योग संघ अध्यक्ष द्वारकाप्रसाद पचीसिया, सचिव विनोद गोयल, रमेश अग्रवाल, बीकानेर व्यापार उद्योग मंडल उपाध्यक्ष विष्णु पुरी, सचिव पंडित जयदेव शर्मा, कोषाध्यक्ष रवि पुरोहित, सह सचिव रोहित कच्छावा, संयुक्त सचिव राजीव शर्मा, घनश्याम लखाणी, घेवरचंद मुसरफ, जय कुमार भंसाली, पानमल डागा, वीरेंद्र भंसाली, विजय मालू, माणक अग्रवाल, सुशील अग्रवाल, पंकज सिंघानिया, सुनील झाबक, मनोज सेठिया, श्रीपाल भूरा, गिरधर करनानी, महेश अग्रवाल, गणेश अग्रवाल, बनवारीलाल अग्रवाल, कन्हैयालाल अग्रवाल, शिवशंकर अग्रवाल आदि शामिल हुए।

Comments are closed.