प्रवासी राजस्थानीयों में सर्वाधिक लोकप्रिय

भीनासर का नवरतन बैद ड्रग तस्करी मामले में गिरफ्तार

बीकानेर। नारकोटिक्स ब्यूरों की जोधपुर टीम ने रविवार को गंगाशहर में दबिश देकर कोकिन तस्करी के मामले में नामी वायदा कारोबारी समेत उसके दो रिश्तेदारों को भी धर दबोचा । इनमें से वायदा कारोबारी भीनासर निवासी नवरतन बैद के खिलाफ एनडीएपीएस एक्ट कार्यवाही दर्ज कर उसे न्यायिक अभिरक्षा के तहत जेल भिजवा दिया,जबकि दोनों रिश्तेदारों को पूछताछ के बाद छोड़ दिया। जानकारी के अनुसार नारकोटिक्स ब्यूरों की मुंबई टीम ने पिछले दिनों लाखों रूपये की कोकिन के साथ एक तस्कर को दबोचा था, पूछताछ में तस्कर ने कबूल किया कि कोकिन की डिलेवरी मूलरूप से भीनासर निवासी हाल मुंबई में रहने वाले नवरतन बैद को देनी थी।

बताया जाता है कि कार्यवाही की भनक लगने के बाद नवरतन बैद मुंबई से भाग कर भीनासर आ गया और अपने रिश्तेदारों के यहां छूप गया। उधर तलाश में जुटी नारकोटिक्स ब्यूरों की टीम मुंबई को मोबाईल लोकेशन से पता चला कि नवरतन बैद भीनासर के एक मकान में छूपा है। मुंबई से नारकोटिक्स ब्यूरों अधिकारियों के निर्देश पर ब्यूरों की जोधपुर टीम ने रविवार को गंगाशहर में थाना पुलिस के सहयोग से भीनासर में दबिश देकर आरोपी नवरतन बैद और उसके शरण देने वाले दो रिश्तेदारों को दबोच लिया।

थाने में सुबह से दोपहर तक सघन पूछताछ के बाद आरोपी नवरतन बैद को एनडीपीएस एक्ट के तहत न्यायालय में पेश कर न्यायिक अभिरक्षा के तहत जेल भिजवा दिया जबकि उसके दोनों रिश्तेदारों को पूछताछ के बाद छोड़ दिया। ब्यूरों टीम की इस कार्यवाही से बीकानेर के क्रिकेट सट्टा और हवाला कारोबार जगत में हडा़कंप सा मच गया। बताया जाता है कि आरोपी पहले यहां भीनासर का नामी क्रिकेट बुकी था,जो बाद में वायदा कारोबार के सिलसिले में मुंबई में जा बसा।

बीकानेर में तस्करी, अवैध हथियारों के कारनामे काफी तादाद में बढ़ रहे हैं। पुलिस को विशेष अभियान चलाकर बीकानेर में कूरियर कंपनीयों पर भी जांच करनी चाहिए, ताकि कहीं भी अवैध तस्करी के काले कारनामे न हो सके। क्योंकि कूरियर द्वारा बंद संदिग्ध पैकेट की डिलेवरी कुछ राज खोल सकती है?

Comments are closed.